Indian rural News Agency
 

 

 

Home>News
नही थम रहे मनरेगा के फर्जी मामले
Tags: 'Mahatma GandhiNational Rural Employment Guarantee Act, 2005' ( MGNREGA)
Publised on : 01 February 2014, Time: 19:22
News source: Indian Rural News Agency (IRNA)

Purva Unnao पुरवा, उन्नाव। अधिशाषी अधिकारी नलकूप द्वारा मनरेगा के तहत बगैर निर्माण कराए फर्जी भुगतान किए जाने का आरोप है। जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर शीघ्र ही जांच कराकर कार्यवाही किए जाने की मांग की है। मामला ग्राम सभा करदहा से सम्बन्धित है।

तहसील क्षेत्र के अन्तर्गत हिलौली के ग्राम सन्दाना निवासी विपिन कुमार सिंह पुत्र गुरूदत्त सिंह के अनुसार नलकूप विभाग के अधिशाषी अभियन्ता जेपी गौड़ ने मनरेगा के तहत बगैर निर्माण कार्य कराए फर्जी भुगतान ले लिया है। बतौर शिकायतकर्ता आरटीआई द्वारा मांगी गई सूचना नलकूप खण्ड ने दी। जिसमें स्टाफ क्वार्टर्स में प्लास्टर पोलीडियन वाल,4मी0 तथा 100मीटर कमरे की मरम्मत आदि करना बताया है। बावजूद इसके आरोपी द्वारा फर्जी निर्माणकार्य दर्शाकर महराजा ब्रिक फील्ड तथा आशू टेडर्स के नामे एमबी करके फर्जी भुगतान भी किया गया है।साथ ही आरोप है कि वर्ष 12-13 में बगैर कार्य पूर्ण कराए ही भुगतान लिया जाना खासा चर्चा में है।  पीड़ित ने जिलाधिकारी विजय किरन आनन्द को शिकायती पत्र देकर मामले की जांच कराकर कार्यवाही किए जाने की मांग की है।