Indian rural News Agency
 

 

 

Home>News
सीएम ने किसान की मौत की जांच एसीएस को सौंपी
Tags: M.P.News, Bhopal, C.M. Shivraj Singh Chauhan, An indefinite curfew was imposed in Bareli town near here on Monday after agitating farmers and police clashed, leaving a farmer dead in police firing. Dozens of people injured in the cane charge, official sources said.
News source: U.P.Samachar Sewa
Publised on : 07 May 2012, Time: 19:54

भोपाल, 07 मई। (उप्रससे)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रायसेन के बरेली में पुलिस फायंिरंग में किसान की मौत के मामले की जांच के आदेश दिये हैं। उन्होंने मृतक किसान के परिजनों को दो लाख रूपये की नकद सहायता देने की भी घोषणा की है। श्री चौहान ने देर रात अपने आवास पर बुलाई पत्रकार वार्ता में उक्त घोषणा की।
मुख्यमंत्री चौहान ने बरेली की घटना पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि इस मामले की जांच एसीएस गृह आईएस दाड़ी करेगें। उन्होंने कहा कि बरेली में बारदाने की 224 तथा बाड़ी में 216 गांठें उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय खाद्य मंत्री थामस के आश्वासन के बाद भी राज्य को बारदाना उपलब्ध नहीं कराया गया है। इस कारण अब सरकार प्लास्टिक का बारदाना खरीदने की व्यवस्था करने जा रही है। ज्ञातव्य है कि कल रायसेन के बरेली मे गेहूं खरीद में धांधली के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस ने गोली चला दी थी। इससे एक किसान की मौत हो गई।

एमपी के बरेली में पुलिस फायरिंग से किसान की मौत
बरेली (रायसेन), 07 मई। (उप्रससे)। गेहूं खरीद में धांधली के खिलाफ आन्दोलन कर रहे किसानों पर आज पुलिस ने गोली चला दी जिससें एक किसान की मौत हो गई। फायरिंग के बाद उग्र हुए किसानों ने उग्र प्रदर्शन किया। किसानों ने कई वाहनों को आग लगा दी। स्थिति नियंत्रण से बाहर होने पर प्रशासन ने कफ्यू लगा दिया।
जानकारी के अनुसार प्रदेश भर में गेहूं खरीद में धांधली और मण्डियों में अधिकारियों की मनमानी के खिलाफ प्रदेश भर के किसानों ने सोमवार को प्रदर्शन करने का निर्णय लिया था। आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान संघ (बीकेएस) ने किसानों से अपील की थी कि वे गेहूं को सडक़ों पर फैला दें। इसी घोषणा के क्रमें यहां किसानों ने सुबह से प्रदर्शन शुरु कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी और जुलुस निकालने का प्रयास किया। इसी में उनका पुलिस के साथ टकराव हो गया। उग्र किसानों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। उधर पुलिस ने लाठी चार्ज किया। इससे कई किसान और पुलिस के लोग घायल हो गए। बाद में किसानों के उग्र होने पर पुलिस ने गोली चला दी। गोली लगने से भारकच्छ खुर्द के किसान और पूर्व सरपंच हरी सिंह प्रजापति की मौत हो गई। किसान की मौत के बाद स्थित इतनी उग्र हो गई कि प्रशासन को कफ्यू लगाना पड़ा।

Curfew imposed in MP town Bareli after farmerís death