Indian rural News Agency
Home>News

कामनवेल्थ गेम में पदक पाने वाले यूपी के खिलाडियों को प्रोत्साहन

मिलेगा मान्यवर कांशीराम अन्तर्राष्ट्रीय खेल पुरस्कार

Lucknow, Oct 15, 2010. Friday. Manyavar Kansiram International Sports Award

लखनऊ, 15 अक्टूबर। (उप्रससे)। मुख्यमंत्री मायावती ने 19वें कामनवेल्थ गेम्स में उत्तर प्रदेश का नाम रोशन करने वाले सभी खिलाड़ियों को पुन: हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई देते हुए इन खिलाड़ियों को मान्यवर श्री कांशीराम जी अन्तर्राष्ट्रीय खेल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने का निर्णय लिया है। उन्हाेंने कहा कि हाल ही में सम्पन्न कामन वेल्थ गेम्स में उत्तर प्रदेश के खिलाड़ियों ने विशेष उपलब्धि अर्जित की है।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि इन खिलाड़ियों को सम्मानित किये जाने के लिए लखनऊ में एक समारोह का आयोजन करके पदक विजेताओं को पुरस्कृत किया जाएगा। उन्होंने कामन वेल्थ गेम्स में एकल प्रतिस्पध्र्दा में विजयी उत्तर प्रदेश के स्वर्ण पदक पाने वाले खिलाडी को 15 लाख रू0, रजत पदक पाने वाले खिलाडी को 10 लाख रू0 तथा कांस्य पदक हासिल करने वाले खिलाडी को 08 लाख रू0 की पुरस्कार राशि दी जाएगी। इसी प्रकार टीम प्रतिस्पध्र्दा में स्वर्ण पदक पाने वाले प्रत्येक खिलाडी को 10 लाख रू0, रजत पदक प्राप्त प्रत्येक खिलाडी को 08 लाख रू0 तथा कास्य पदक प्राप्त प्रत्येक खिलाडी को 06 लाख रू0 की पुरस्कार राशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खिलाड़ियों को अधिकाधिक प्रोत्साहित करने के लिए हर सम्भव मदद देने हेतु कटिबध्द है। इसके तहत विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं के लिए आवश्यक संसाधन तथा अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। 

        कामनवेल्थ गेम्स में उत्तर प्रदेश के जिन खिलाड़ियों ने पदक हासिल किये हैं, उनमें ओंकार (आजमगढ़), कु0 अनुराज सिंह (अलीग़ढ) तथा इमरान हसन खान (बरेली) ने निशानेबाजी में स्वर्ण पदक, कुमारी अलका तोमर (मेरठ) तथा नरसिंह यादव (वाराणसी) ने कुश्ती में स्वर्ण पदक प्राप्त कर प्रदेश का गौरव बढाया है। इसी प्रकार रितुल चटर्जी (वाराणसी) ने तीरन्दाजी में रजत पदक, उत्तर प्रदेश पुलिस में कार्यरत कु0 सोनिया चानू (गृह राज्य मणिपुर) ने भारोत्तोलन में रजत पदक, श्री अनुज चौधरी (मुजफ्फरनगर) ने कुश्ती में रजत पदक, तुषार खण्डकर (झांसी) तथा दानिश मुर्तजा (इलाहाबाद) ने हॉकी में तथा आशीष (इलाहाबाद) ने जिमनास्टिक में रजत एवं कांस्य पदक प्राप्त किया।